झारखंड

राष्ट्रीय कवि संगम, बोकारो महानगर इकाई की मासिक काव्यगोष्ठी आयोजित

अपने पथ के पुष्प चयन कर तेरे पथ में बिछा सकूं...

बोकारो: राष्ट्रीय कवि संगम, बोकारो महानगर इकाई की मासिक काव्यगोष्ठी ‘वसंत काव्यांजलि’ आयोजित हुई। इस रचनागोष्ठी में  राष्ट्रीय कवि संगम, बोकारो महानगर इकाई अध्यक्ष अरुण पाठक, महासचिव ब्रजेश पांडेय सहित डाॅ निरुपमा कुमारी, कस्तूरी सिन्हा, पूर्णेन्दु कुमार सिंह, शैलेन्द्र कुमार, कुमार केशवेन्द्र, कुलदीप शर्मा, ज़ाहिद सूफी, दुर्गेश कुमार, समीर कुमार गर्ग, शैलेश सिन्हा, कृपानंद सिन्हा, मोहित कालीदास व विधान शर्मा भक्ति, देशप्रेम, वसंत, प्रेम, करुणा, सड़क सुरक्षा आदि विषयों पर अपनी रचनाओं का पाठ कर अपनी रचनाधर्मिता को प्रदर्शित किया।

डाॅ निरुपमा कुमारी की अध्यक्षता में आयोजित इस काव्य गोष्ठी की शुरुआत ब्रजेश पांडेय ने सरस्वती वंदना ‘ऐसे पद्मपाणी को नमन है…’ सुनाकर की। तत्पश्चात् उन्होंने ‘कंटकों में गुल खिलना जिंदगी है…’, ‘जो हर पल रौशनी कर जाए उसे रवि कहते हैं…’, समीर गर्ग ने जीवन दर्शन पर केंद्रित अपनी रचना ‘जीवन की हर शाम ढलने पर मुस्कुराते क्यों नहीं…’, शैलेश सिन्हा ने पंजाबी भाषा में ‘वंदया हो..’, कृपानंद सिन्हा ने ‘आ करके मेरे कब्र पर…’, मोहित कालीदास ने ‘नमकीन वादे थे, रंगीन इरादे थे…’, कस्तूरी सिन्हा ने ‘सूखे पत्ते पैरों तले, आंखों में पलते सपने…’, कुमार केशवेन्द्र ने ‘किसी मुकदमे के ही फैसला सा आना तेरा है…’, शैलेन्द्र कुमार ने सुभाषचंद्र बोस के नाम-‘ऐ वतन प्यारे वतन’ व गांधी के नाम-‘लाठी संग सहपाठी बन आजादी का मंत्र दिया..’, पूर्णेन्दु कुमार सिंह ने ‘जीवन में हों वसंत..’, कुलदीप शर्मा ने ‘इश्क परवान चढ़ता है…’ व ‘अबकी बरस’, दुर्गेश कुमार ने ‘इमानदार होना बड़ी बात नहीं है, बड़ी बात है रहना इमानदार व सड़क सुरक्षा पर केंद्रित कविता ‘आइए प्रण करें न करेंगे कभी सड़क सुरक्षा से खिलवाड़’, ज़ाहिद सूफी ने शेरो-शायरी ‘देखने का नज़रिया बदलो साहब..’, अरुण पाठक ने होली गीत ‘होली पावनि अछि मनभावन एकरा सब मिलि संग मनाउ…’ व डाॅ निरुपमा कुमारी ने ‘जय-जय हे मां विद्यादायिनी…’ व ‘अपने पथ के पुष्प चयन कर तेरे पथ में बिछा सकूं…’ सुनाकर सबको प्रभावित किया।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker